फेंग फू थैरेपी के फ़ायदे

दोस्तों आज की पोस्ट में हम एक नए विषय पर चर्चा करेंगे वह है चीन की पारंपरिक ऐक्यूपंचर पद्धति जो फेंग फू के नाम से प्रसिद्ध है। आज हम इसी ऐक्यूपंचर पद्धति के बारे में जिक्र करेंगे। फेंग फू ऐक्यूपंचर पद्धति में शरीर के एक खास हिस्से पर आइस क्यूब रखने से हमें अपने शरीर की बहुत सारी समस्याओं से राहत मिलती है। आपने सोचा है कि बर्फ का यह टुकड़ा आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद भी हो सकता है। जी हां अगर अगर आप बर्फ के टुकड़े को अपने शरीर के एक ख़ास जगह पर रखें तो इससे आपको कई तरह के फायदे हो सकते हैं।

 

फेंग फू थैरेपी के फ़ायदे
फेंग फू थैरेपी के फ़ायदे
शरीर का वह कौन से स्थान है जहाँ पर बर्फ रखने से हमें फायदा मिलता है तो इसका उत्तर है हमारी गर्दन के पीछे की तरफ एक ख़ास पॉइंट। इस पॉइंट पर बर्फ का टुकड़ा करीब 20 मिनट तक रखना पड़ता है। शुरुआत में हमें बहुत अधिक ठंडा महसूस होगा पर धीरे-धीरे सब सामान्य हो जायेगा। आइस क्यूब के इस्तेमाल का यह तरीका चीन की पारंपरिक ऐक्यूपंचर पद्धति में इस्तेमाल किया जाता है और गर्दन के जिस हिस्से पर बर्फ को रखा जाता है उस जगह को फेंग फू (Feng Fu) कहते हैं। तो आईये जानते हैं इस फेंग फू थेरेपी के फायदे:-

अच्छी नींद:-  इस थेरेपी से आपके शरीर और दिमाग का तनाव कम होता है जिसके फलस्वरूप मन शांत होता है। जिसकी वजह से आप रात को अच्छी व भरपूर नींद ले पाते है और सुबह तरोताजा उठते है।  
थाइरोइड की समस्या से राहत:   नियमित रूप से फेंग फू थेरेपी अपनाने से हमारे शरीर की थाइरोइड ग्लैंड ठीक तरीके से काम करने लगते है और थाइरोइड से जुडी समस्याओं से आराम मिलता है। साथ ही थाइरोइड की बीमारी पर नियंत्रण मिलता है। 
पाचन क्रिया बेहतर होती है:   इस थेरेपी से कब्ज और एसिडिटी (एसिड रिफ्लक्स) जैसी पेट की  विभिन्न समस्याओं से छुटकारा मिलता है। इसके साथ ही हमारे शरीर का पाचन तंत्र मजबूत होता व सुधरता है। फेंग फू मेथड अपनाने से पेट का दर्द, गैस के कारण पेट फूलना और अपच (Indigestion) जैसी समस्याओं से भी राहत मिलती है।
सिरदर्द में आराम:   बार-बार होने वाले शारारिक व मानसिक तनाव और उसके कारण होने वाला सिर का दर्द भी इस चाइनीज़ मेथड से ठीक हो जाता है तथा माइग्रेन के दर्द में राहत मिलती है। 
अस्थमा में आराम:-  अस्थमा जैसी बीमारी के मरीज जिन्हें साँस फूलने की शिकायत रहती है उन्हें इस चाइनीज तकनीक को ज़रूर अपनाना चाहिए। इसे नियमित रूप से करने से अस्थमा के लक्षणों में काफी कमी आती है।
प्रजनन क्षमता:-   यह चाइनीज मेथड हमारे प्रजनन क्षमता को और बेहतर करती है साथ ही हमारे शरीर को इनफर्टिलिटी और नपुंसकता जैसी समस्याओं से दूर रखती है। यह एंडोक्राइन ग्लैंड (Endocrine Glands) को स्वस्थ व बेहतर तरीके से काम करने में मदद करती है। अगर आप अपनी सेक्स लाइफ को लेकर खुश नहीं हैं तो फेंग फू मेथड को ज़रूर अपनाये।
मूड को अच्छा बनाए:-   कुछ लोग मूड डिसऑर्डर (Mood Disorder) नाम की बीमारी से पीड़ित होते है जिसमे व्यक्ति का मूड कभी खुश तो कभी उदास रहता है व जल्दी-जल्दी बदलता रहता है। इस बीमारी के शिकार लोगों में से कुछ लोगों का मूड हर घंटे ही बदलता रहता है और कभी वे गुस्से में रहते हैं तो कभी बिल्कुल नार्मल हो जाते हैं। ऐसे व्यक्ति फेंग फू थेरेपी को अपना कर खुद को नार्मल रख सकते है। जिसके फलस्वरूप उनका मूड हमेशा खुशनुमा रह सकता है। 
थकान व स्ट्रेस को कम करे:-  आजकल की व्यस्त और भागदौड़ भरी जिंदगी में हर कोई व्यक्ति थकान, मानसिक व शारारिक तनाव का शिकार बन जाता है।  लेकिन अगर आप इस चाईनीस थेरेपी को अपनाते है तो यह आपको थकान व स्ट्रेस से हमेशा दूर रख सकती है और साथ ही आपके अंदर की नेगेटिव एनर्जी को दूर कर सकती है। इसके साथ ही यह मेथड बॉडी में रक्त का संचार भी सुधरता है।
शरीर में जमा चर्बी को दूर करे:-  यह थेरेपी हमें अपने शरीर में जमा हुई चर्बी जिसको हम फैट और सेल्युलाईट के नाम से भी जानते है। यह उस फैट को हमारे शरीर से कम करने में हमारी बहुत ही मददगार साबित होती है।  एक प्रकार से शरीर की जमी वसा या चर्बी को कम करने का यह सबसे आसान और सस्ता तरीका है। 
आर्थराइटिस में राहत:-  उम्र बढ़ने के साथ ही बहुत से लोग घुटने और जोड़ों में दर्द का शिकार बनने लगते है। जिसे हम आर्थराइटिस भी कहते है। फेंग फू थैरेपी आर्थराइटिस जैसी बीमारी में आपकी सहायता करती है। इससे ना केवल आप घुटने और जोड़ों के दर्द को ठीक कर सकते है बल्कि उक्त-रक्तचाप और निम्न-रक्तचाप से होने वाली परेशानियों से राहत दिलता है। 
सर्दी-जुकाम से आराम:  आपको यह जानकार आश्चर्य होगा की इस चाइनीज़ थैरेपी को नियमित रूप से करने वाले व्यक्तियों की अन्य रोगों से लड़ने की रोग-प्रतिरोग क्षमता जिसको हम इम्युनिटी पावर भी कहते है बढ़ने लगती है। जिसके फलस्वरूप आप मौसमी बिमारियों और सर्दी-जुकाम आदि से अपने शरीर को अच्छी तरह बचा सकते है।
महिलाओं का रिप्रोडक्टिव सिस्टम सुधरता है: फेंग फू मेथड महिलाओं में होने मासिक धर्म से होने वाली परेशानी जैसे पीएमएस (Premenstrual Syndrome) जो उनके प्रजनन अंगो से जुडी होती है उसमें बहुत ज्यादा मददगार साबित होता है व पीएमएस में राहत पहुँचता है। 
मित्रों तो यह थे वे कुछ फायदे जो हमें चाइनीज़ फेंग फू थैरेपी से मिलते है। इन्ही फायदों को वीडियो की मदद से देखने के लिए नीचे दिए गए वीडियो के लिंक को क्लिक करे और शेयर करे।  साथ ही हमें आज की इस पोस्ट से जुड़े विचार और कमैंट्स हमेशा के जैसे कमेंट बॉक्स में लिख कर या फिर हमारे ईमेल पर मेल करके भी भेज सकते है।  मेरे प्यारे दोस्तों और मित्रों तो फिर अगली बार मैं आप सभी से फिर मिलूँगा इसके साथ ही आप सभी स्वस्थ्य और खुश रहिये, तब तक के आपसे विदा चाहता हूँ 👋🏻👋🏻👋🏻 नमस्कार 🙏🙏🙏

 

 

4 thoughts on “फेंग फू थैरेपी के फ़ायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *