20 साल की उम्र में लड़कियों में होने वाले शारारिक बदलाव

आज हम बहुत ही खास और बेहद ही जरुरी बात पर चर्चा करेंगे जिसके बारे में हर माँ अपनी बेटी के लिए चिंतित रहती है। वह है लडकियों में उम्र का वह पड़ाव जहां से वे बचपन की स्थिति से निकल कर जवानी की देहलीज़ में कदम रखती है। जी हां, हम आज बात करेंगे लड़कियों की 20 साल की उम्र के बाद होने वाले शारारिक बदलावों के बारे में। 
लड़कियों में 20 साल की उम्र के बाद होने वाले शारारिक बदलाव
उम्र के साथ-साथ लड़कियों के शरीर में कई प्रकार के बदलाव आते है। साथ ही कुछ बदलावों के कारण उन्हें कई प्रकार ही हेल्थ से रिलेटेड प्रोब्लेम्स का भी सामना करना पड़ता है। इन हेल्थ प्रोब्लेम्स का सही समय पर पता लगाकर सही सोलूशन निकला जा सकता है। हमने बात की जाने मानी गायनोकोलॉजिस्ट से और उनके कहे अनुसार हम चर्चा करेंगे उन बदलावों के बारे में जिन्हे लड़कियों को अपने ऊपर अनुभव करती है।  
1. बाल:20 साल की उम्र के बाद लड़कियों की चिन, चेस्ट और पेट पर धीरे-धीरे बाल निकलने लगते है।  

समस्या का हल- बालों को हटाने के लिए हेयर रिमोविंग क्रीम या फिर लेडीज रेज़र यूज़ किया जा सकता है। बालों को परमानेंट लेज़र के जरिये भी हटाया जा सकता है।  

 

2. पीरियड्स: 20 की उम्रमें होने वाले हार्मोनल इम्बैलेंस के कारण लड़कियों के पीरियड्स सही समय पर नहीं आ पाते है। 
समस्या का हल- इस उम्र की लड़कियों को अपनी डाइट में फल और हरी पत्तेदार सब्जियाँ की मात्रा बढ़ानी चाहिए।  जिससे उन्हें भरपूर आयरन, विटामिन्स, मिनरल्स और एंटी ऑक्सीडेंट्स मिल सके। इनको लेने से पीरियड्स रेगुलर करने में सहायता मिलती है।  
3. वजन बढ़ना: 20 साल की उम्र की लड़कियों का मेटाबोलिज्म स्लो हो जाता है। जिससे शरीर में वजन बढ़ने की प्रॉब्लम होने लगती है।  
समस्या का हल- खाने में ज्यादा ऑयली और शुगरी फूड्स से बचना चाहिए।  रोज़ कम से कम 30 मिनट्स की वाक या फिर एक्सरसाइज जरुरी है, ऐसा करने से वजन कण्ट्रोल में रहेगा।  
4. बालों पर असर: 20 की उम्र के बाद लड़कियों में हार्मोनल चेंज के कारण बाल रफ और ड्राई होने लगते है। 
समस्या का हल- 3-4 चम्मच ओलिव आयल को गर्म करे और गुनगुना होने पर इससे बालों में हलके-हलके मसाज करे और इसके बाद टॉवल को हल्का गर्म करके बालों पर बांध ले।
5. पिम्पल्स:- 20 साल की उम्र के बाद लड़कियों की बॉडी में हार्मोनल चेंज के कारण पिम्पल्स और ड्राई स्किन  की प्रॉब्लम होने लगती है। 
समस्या का हल- इस उम्र की लड़कियों को खाने में ज्यादा ऑयली फ़ूड नहीं लेना चाहिए।  दिन में 2-3 बार चहेरे को पानी से अच्छी तरह धोये। इससे चहरे का आयल कण्ट्रोल होगा और पिम्पल्स की प्रॉब्लम भी नहीं होगी।  
ज्यादा जानकारी और बताई गयी बातों को फिर से ध्यानपूर्वक देखने के लिए नीचे दिए गए वीडियो को देखे साथ ही इस वीडियो को अपने जानकारों और मित्रों के बीच शेयर करे। आपके बहुमूल्य कमैंट्स से इस पोस्ट के बारे में अपने विचार जरूर अवगत कराये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *